अवध_असम_एक्सप्रेस_एक_प्रेमकहानी!

अवध असम एक्सप्रेस – एक प्रेमकहानी!

अवध – असम एक्सप्रेस डिस्क्लेमर – यह एक सत्य घटना पर आधारित काल्पनिक प्रेमकथा है. इसके सभी मुख्य किरदार काल्पनिक है और इनका 2 अगस्त 1999 को हुई सत्य घटना से कोई भी संबंध नही है. कथा की रंजकता को Read more…

75th Independence day

Independence Day Special – राष्ट्रीय चरित्र

आजादी की 74 वी सालगिरह, स्वर्णिम वर्ष में प्रवेश और इतने लंबे सफर में आज भारत सिर्फ कहने को नहीं, सच मे दुनिया के कदम से कदम मिलाकर चल भी रहा है और एक ताकतवर देश के रूप में उभरा Read more…

पुण्यातील उपरे!

पुण्यातील उपरे!

साधारण अडीच वर्षांपूर्वी पुणं सोडून लातुरात वापस आलो होतो. आज वापस पुण्यात आलोय. करिअर, आयुष्य सर्वच पुण्यात निघावं वाटतं इतकं पुणं सुंदर आहेच. मी एकटा नाही जो मराठवाड्यातून येऊन पुण्यात स्थायिक होण्याची स्वप्ने बघतोय, माझ्याआधी किमान आठ दहा लाख लोक Read more…

image of गाज़ी शहरे इश्क़ के

गाज़ी शहरे इश्क़ के!

उसकी कोहनी से पकड़कर यूँ नजाकत से खींच लेता पास, तो पूछता, क्या है ज़्यादा खूबसूरत, उसकी आँखें या उनमें डूबने का खयाल? पलके झुकाकर जो वो बिना लफ़्ज़ों के कहदे बहुत कुछ; बता देता हूँ पूरी कायनात की औकात Read more…

जयोस्तुते – हिंदी अनुवाद

वीर सावरकरजी की सबसे बढ़िया और दिल को छू लेने वाली मराठी कविता जयोस्तुते का हिंदी अनुवाद करने का ये प्रयास. सारे मूल अधिकार स्वर्गीय वीर सावरकरजी के पास रहें, उनको वन्दनस्वरूप मेरी तरफ से ये भेंट हमारे हिंदी वाचकों Read more…

2014 च्या डायरीमधून!

नाशिकच्या दहीपूल भागातील मार्केट मध्ये फणसाचे गरे खाताना मागून नीलिमा येते. होय मी माझ्या दोन्ही मोठ्या बहिणींना नावाने हाक मारतो. तर नीलिमा म्हणते “काय रे, तुझ्या हिरोईन ला घ्यायचं का नाही काही ?” जून 2014 मधील हा प्रसंग. अचानक “एक Read more…